07 मई को होगा मतदान, कलेक्टर ने मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों एवं मीडिया प्रतिनिधियों की ली बैठक

ब्यूरो  रिपोर्ट

लोकसभा निर्वाचन कार्यक्रम की घोषणा के साथ जिले में आदर्श आचार संहिता प्रभावशील 

07 मई को होगा मतदान, कलेक्टर ने मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों एवं मीडिया प्रतिनिधियों की ली बैठक

मुंगेली  भारत निर्वाचन आयोग द्वारा लोकसभा निर्वाचन कार्यक्रम की घोषणा के साथ ही जिले में आदर्श आचार संहिता प्रभावशील हो गई है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी राहुल देव ने आज जिला कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों एवं मीडिया के प्रतिनिधियों की बैठक ली। उन्होंने बताया कि विधानसभा मुंगेली और लोरमी लोकसभा क्षेत्र-05 बिलासपुर के अंतर्गत आता है। बिलासपुर लोकसभा निर्वाचन के लिए निर्वाचन अधिसूचना का प्रकाशन एवं नाम निर्देशन प्रक्रिया 12 अप्रैल से प्रारंभ होगी।

नाम निर्देशन प्रक्रिया की अंतिम तिथि 19 अप्रैल, नाम निर्देशन पत्रों की संवीक्षा 20 अप्रैल, नाम निर्देशन वापसी लिए जाने की तिथि 22 अप्रैल, मतदान की तिथि 07 मई, मतगणना की तिथि 04 जून निर्धारित है। लोकसभा क्षेत्र बिलासपुर के लिए नाम निर्देशन की व्यवस्था कलेक्टर कोर्ट रूम बिलासपुर निर्धारित की गई है। विधानसभा क्षेत्र लोरमी एवं मुंगेली हेतु स्ट्राॅंग रूम शासकीय कृषि अभियांत्रिकी महाविद्यालय चातरखार में बनाया गया है। कलेक्टर ने कहा कि सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान आदर्श आचार संहिता के प्रावधानों का पूर्ण रूप से पालन करते हुए शांतिपूर्ण एवं शत प्रतिशत मतदान सुनिश्चित किया जाना है,

इसमें सभी का सहयोग जरूरी है। ताकि पिछले बार की तरह इस बार भी शांतिपूर्ण तरीके से मतदान प्रक्रिया सम्पन्न कराया जा सके।
कलेक्टर ने बताया कि स्वतंत्र, निष्पक्ष चुनाव सम्पन्न कराने के लिए जिला स्तरीय मीडिया प्रमाणन एवं निगरानी समिति, एफएसटी, एसएसटी, व्हीएसटी एवं वीवीटी सहित अन्य निगरानी दलों का भी गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि सभा, जुलूस, रैली एवं लाउड-स्पीकर के लिए राजनैतिक दलों को सक्षम प्राधिकारी से पूर्वानुमति प्राप्त करनी होगी। राजनीतिक दलों द्वारा मतदान के लिए प्रलोभन देना, मतदान के अधिकार में बाधा पहुंचाना, मतदाता के रूप में किसी अन्य व्यक्ति की जगह अपने आपको प्रस्तुत करना, मतदान के बारे में गलत टिप्पणी करना आचार संहिता के नियमों के विपरीत है और इसके उल्लंघन पर निर्वाचन आयोग के नियमानुसार प्रतिबंधात्मक धाराओं में कार्यवाही की जाएगी। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने जिले के आम नागरिकों एवं जनप्रतिनिधियों से आचार संहिता का पालन सुनिश्चित करने के साथ जिले के सभी मतदाताओं से मताधिकार का स्वतंत्र एवं निष्पक्ष उपयोग करने तथा लोकतंत्र के इस महापर्व में भागीदारी की अपील की।

इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्रीमती निष्ठा पाण्डेय तिवारी, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी प्रभाकर पाण्डेय, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पंकज पटेल, उप जिला निर्वाचन अधिकारी मेनका प्रधान, संयुक्त कलेक्टर गिरीश रामटेके, मुंगेली एसडीएम पार्वती पटेल, डिप्टी कलेक्टर अजय शतरंज सहित संबंधित अधिकारी, राजनीतिक दलों और विभिन्न मीडिया के प्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

जिले के 05 लाख 96 हजार से अधिक मतदाता अपने मतदान का करेंगे प्रयोग

गौरतलब है कि जिले में कुल मतदाताओं की संख्या 05 लाख 96 हजार 706 है, जिसमें पुरूष मतदाता 03 लाख 02 हजार 559, महिला मतदाता 02 लाख 94 हजार 131 और थर्ड जेंडर 16 शामिल है। चिन्हांकित दिव्यांग मतदाताओं की संख्या 07 हजार 345 है। 18 से 19 वर्ष आयु वर्ग के मतदाताओं की संख्या 17 हजार 142 है। 85 से वर्ष से अधिक उम्र से अधिक के मतदाताओं की संख्या 05 हजार 49 है। जिले अंतर्गत कुल 659 मतदान केन्द्र है, जिसमें 40 शहरी 613 ग्रामीण मतदान केन्द्र हैं। निर्वाचन संबंधी सहायता एवं शिकायतों के निराकरण किए जाने हेतु कमाण्ड सेंटर तैयार किया गया है, जिसका सम्पर्क नम्बर 9406275513 तथा 8641002203 है। इसके अलावा टोल फ्री नम्बर 1950 पर भी काॅल किया जा सकता है।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

मातृ- पितृ दिवस पर नन्हे बच्चों ने किया माता पिता की पूजन

🔊 Listen to this ब्यूरो रिपोर्ट मातृ- पितृ दिवस पर नन्हे बच्चों ने किया माता …