Breaking News

छत्तीसगढ़ प्रेस क्लब ने पत्रकारों को फ़्रंटलाइन वारियर्स का दर्जा देने की राज्य सरकार से रखी मांग

छःग ब्यूरो चीफ पी बेनेट,(7389105897)

छत्तीसगढ़ प्रेस क्लब ने पत्रकारों को फ़्रंटलाइन वारियर्स का दर्जा देने की राज्य सरकार से रखी मांग 

मृत पत्रकारों के परिजनों को शासन स्तर पर मिले 50 लाख का मुआवजा -संदीप तिवारी”राज

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रेस क्लब ने प्रदेश के तमाम पत्रकारों को कोरोना फ़्रंटलाइन वारियर्स का दर्जा दिए जाने की मांग रखी है। इस संबंध में छत्तीसगढ़ प्रेस क्लब ने मांग रखते हुए मुख्यमंत्री से इस संबंध में चर्चा कर पहल किए जाने की मांग रखी है। छत्तीसगढ़ प्रेस क्लब के अध्यक्ष संदीप तिवारी “राज” ने बताया कि विगत वर्ष की तरह इस वर्ष भी कोरोना के दस्तक ने जनजीवन अस्त व्यस्त कर दिया है। इस बीच पत्रकार साथी फ्रंट फुट पर आकर कोरोना संक्रमण से बचाव तथा रोकथाम के लिए अपने अखबारों और टीवी चैनलों वेब पोर्टल के माध्यम से प्रचार प्रसार में जुटे हैं, और लगातार काम कर भी रहे हैं। मगर इस वैश्विक महामारी के बीच उन्हें भी कोविड-19 का खतरा बना रहता है बावजूद इसके अब तक पत्रकारों को फ्रंटलाइन वारियर्स नहीं माना गया है। जो की अनेक राज्यों में हो चुका है। अगर पत्रकारों को फ्रंटलाइन वारियर्स का दर्जा मिल जाए तो उन्हें भी कोरोना का टीकाकरण प्राप्त हो सकता है, इसीलिए छत्तीसगढ़ सरकार को जल्द से जल्द इस दिशा में निर्णय लेते हुए पत्रकारों के मांगों पर विचार करना चाहिए, वही हर जिले कि कोविड-19 अस्पतालों में कोरोना पीड़ित पत्रकारों के लिए कम से कम 50 बेड आरक्षित रखा जाए ताकि पीड़ित होने पर उनका बेहतर ढंग से उपचार हो सके साथ ही मृत पत्रकारों के परिजनों को शासन स्तर पर 50 लाख का मुआवजा मिलना चाहिए।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए निर्माण और विकास कार्यो को सतत् रूप से जारी रखने के निर्देश धान उपार्जन केंद्रो से धान का उठाव 05 जून तक

🔊 Listen to this छःग ब्यूरो चीफ पी बेनेट 7389105897 कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते …